भाजपा पार्षद ने कहा इंदौर के नाम को बदलकर ‘इंदूर’ करे

111
Indore
nationaldunia.com

इंदौर।

देश के कई शहरों के नामों में परिवर्तन करने के बाद अब इंदौर के नाम को भी बदलने की बहस भी शुरू हो गई है। नगर निगम के पार्षदों के समारोह में आज एक प्रस्ताव पेश किया गया है। जिसमें मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी का नाम को बदलकर ‘इंदूर’ किए जाने की मांग की गई है।

नगर निगम के सभापति अजय सिंह नरूका का कहना है कि वॉर्ड क्रमांक 70 के बीजेपी पार्षद सुधीर देड़गे ने ऐतिहासिक तथ्यों का हवाला देते हुए इस सम्मेलन में कहा कि इंदौर मूल के नाम को बदलकर इंदूर किया जाना चाहिए। शहर को इसी नाम से संबोधित करना चाहिए।

नगर निगम के सभापति अजय सिंह नरूका ने देड़गे से कहा कि अपने दावे के समर्थन में ऐतिहासिक दस्तावेज पेश करें। इसके बाद विचार-विमर्श करने के आधार पर उनके प्रस्ताव पर उचित कदम उठाया जाएगा।

देड़गे ने संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा है कि प्राचीन इंद्रेश्वर महादेव मंदिर के कारण इस शहर का नाम इंदूर रखा गया था। लेकिन अंग्रेजों के गलत उच्चारण की वजह से शहर का नाम इंदौर पड़ गया जो बाद में बदलकर इंदौर हो गया।

देड़गे ने कहा कि इंदौर पूर्व होलकर शासकों की राजधानी रहा है और रियासत काल के कई ​ऐतिहासिक दस्तावेजों में भी इस शहर को ‘इंदूर’ ही बताया गया है।

आपको हमारी खबर कैसी लगी? अच्छी लगी तो अपने फेसबुक, व्हाट्सअप, इंस्टाग्राम, लिंकडइन सहित सोशल मीडिया पेज पर शेयर करें और अपने दोस्तों को बताएं। साथ ही हमें nationaldunianews@gmail.com पर सुझाव भी दें। Whatsapp Number.9828999333

Facebook Comments