यह हैं ‘एंग्री हनुमान’ की तस्वीर बनाने वाले शख्स, मोदी भी कर चुके हैं तारीफ-

97

बेंगलुरु।

एंग्री हनुमान की तस्वीर बनाने को लेकर यह शख्स इन दिनों काफी चर्चा में बने हुए हैं। देशभर में लाखों कारों पर इनकी तस्वीर लगीं मिल जायेंगीं। जहां कई लोग इस पोस्टर की तारीफ कर रहे हैं, वहीं कुछ लोग इसे उग्र हिंदुत्व का प्रतीक मानकर विरोध भी कर रहे हैं। इस पोस्टर की तारीफ करने वालों में आम आदमी से लेकर पीएम नरेन्द्र मोदी भी शामिल हैं। इस तस्वीर को बनाने वाले कलाकार हैं कर्नाटक के करण आचार्या।

पीएम नरेंद्र मोदी ने भी की थी करण आचार्या की तारीफ

दरअसल, पीएम नरेंद्र मोदी ने भी पिछले रविवार को कर्नाटक चुनाव में अपने प्रचार अभियान के दौरान इस कलाकार करण आचार्या की तारीफ की थी। मोदी ने कहा था कि ‘करण आचार्य ने हनुमानजी की जो तस्वीर बनाई, उस हनुमानजी की तस्वीर की देशभर में गूंज उठी है।मोदी ने कहा कि देशभर में उस तस्वीर की चर्चा हुई है, जो बहुत प्रशंसनीय है। मैंने देखा कि देशभर के टीवी वाले कई इंकार कलाकार करण आचार्य का इंटरव्यू लेने के लिए कतार लगाकर खड़े हैं। मोदी ने कहा कि यह करण आचार्य की कला की ताकत थी। उन्होंने ने कहा कि उसकी कल्पना शक्ति की ताकत थी, यह मंगलौर का गर्व है।

मोदी ने कहा कि देशभर में उस तस्वीर की चर्चा हुई है, जो बहुत प्रशंसनीय है। मैंने देखा कि देशभर के टीवी वाले कई इंकार कलाकार करण आचार्य का इंटरव्यू लेने के लिए कतार लगाकर खड़े हैं। मोदी ने कहा कि यह करण आचार्य की कला की ताकत थी। उन्होंने ने कहा कि उसकी कल्पना शक्ति की ताकत थी, यह मंगलौर का गर्व है।

कांग्रेस को कर्नाटक में काम करने का अधिकार नहीं

इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘जिनको पेट में दर्द होता है, वह होता रहे। उन्होंने करण आचार्य जैसे आर्टिस्ट की हनुमानजी की तस्वीर को भी विवादों में घसीट दिया है। कांग्रेस का जो आज इको सिस्टम है, वो पूरी तरह उसको बदनाम करने में लग गया, ऐसी मानसिकता वाले लोग करण आचार्य की कला को सहन नहीं कर सकते। उनके दिल में लोकतंत्र होने का कोई सबूत नहीं है। ऐसी पार्टी को कर्नाटक में काम करने का एक दिन भी अधिकार नहीं है।

एंग्री हनुमान नहीं, ये उनका एटीट्यूड है

इधर, ‘एंग्री हनुमान’ की यह रोचक तस्वीर बनाने वाले करण आचार्या के मुताबिक, ‘उन्होंने जो हनुमानजी की तस्वीर बनाई है, वो गुस्से में नहीं हैं, बल्कि यह मुद्रा उनके एटीट्यूड की है। करण ने कहा कि मुझे खुशी है कि मेरी कला आज हर जगह दिख रही हैं। पीएम मोदी की टिप्पणी पर कारण ने कहा कि यह अचंभित करने वाला और खुश करने वाला पल है।

वैसे यह तस्वीर लगभग 3 साल पहले, साल 2015 में अपने गांव में यूथ क्लब के लिए बनाई थी। करण आचार्या मूलतः केरल के कासरगोड जिले के कुंबले गांव के हैं।

से बनाई तस्वी
एंग्री हनुमान की यह बेहद गुस्‍से वाली तस्‍वीर किस तरह बनाई गई? बकौल, करण आचार्य ‘गणेश चतुर्थी के दौरान उनके दोस्तों ने एक ऐसी तस्वीर बनाने को कहा जो बिलकुल अलग हो। तब मैंने कुछ अलग कला पर काल करने की सोची। गूगल में सर्च करने पर हनुमानजी की कई तस्वीरें आती हैं, लेकिन मैंने उनसे अलग करने की सोची।

कारण ने कहा कि तब मैंने एक ही ऐसे रंग से हनुमानजी की तस्वीर बनाने के बारे में सोचा, जो अट्रैक्टिव हो, जिसके लिए ऑरेंज कलर चुना किया। यही रंग हनुमान और उनकी शक्ति का प्रतीक माना जाता है। आश्चर्यजनक रूप से इस काम में उनको महज़ आधे घंटे का समय लगा। जिसपर मुझे यकीन नहीं था कि यह तस्वीर इतनी ज्यादा वायरल होगी।

Facebook Comments