पहलवानों के राज्य हरियाणा की “मानुषी” बनी विश्व सुंदरी

539

नई दिल्ली।
हरियाणा खेलों में देश का नाम रोशन कर रहा है। यहां से पहलवान और अन्य एथलीट हर साल मोटी तादात में निकलते हैं। लोग अब तक हरियाणा के लोगों को पहलवानी के लिए ही जानते थे, लेकिन पहली बार हरियाणा के जाट समुदाय की एक लड़की ने खूबसूरती का डंका पूरे विश्व में मनवाया है।

20 वर्षीय मानुषी छिल्लर का जन्म 14 मई 1997 को हुआ था। उनकी पहचान एक भारतीय मॉडल व सौन्दर्य प्रतियोगिता शीर्षक धारक के रूप में है। अब छिल्लर की पहचान विश्व सुन्दरी के रूप में होगी। उनको चाइना में आयोजित मिस वर्ल्ड 2017 के ताज से नवाजा गया है। इससे पहले 25 जून 2017 को उन्हें फेमिना मिस इंडिया से भी नवाजा गया था। उससे पहले वह हरियाणा राज्य को मिस इंडिया हरियाणा बन चुकी हैं। दिल्ली व दुसरे 21 प्रतियोगियों के साथ प्रतियोगिता में हिस्सा लिया था।

छिल्लर बहुत ही कम मिस इंडिया विजेताओं में से हैं जों कि एक मेडिकल छात्र हैं। जैसे “1996 में तीसरी रनर अप रीता फ़रिया” थीं। “मिस वर्ल्ड 1966, कल्पना पंडित”। एमबीबीएस की छात्रा पहली बार “मिस वर्ल्ड 2017” का खिताब जीतने वाली पहली भारतीय और एशियाई को अपना आदर्श मानती हैं।

फेमिना मिस इंडिया 2017 के फाइनल में अंतिम सवाल ये पूछा गया कि उनके द्वारा 30 प्रतिभागियों के साथ एक महीना बिताने के बाद जो सबक वापस लेकर जाएंगे, वह क्या है? इसके जवाब में मानुषी ने कहा इस यात्रा के दौरान मेरा एक सपना था, मुझे विश्वास है कि मई दुनिया बदल सकती हूं।

डॉक्टर माता-पिता के घर जन्मी मनुषी खुद भी एक मेडिकल छात्र हैं। उनके पिता डॉ. मित्र बासु छिल्लर चिकित्सा में एमडी हैं व मां डॉ. नीलम छिल्लर जैव रसायन में एमडी हैं। उनकी स्कूली शिक्षा सेंट थॉमस स्कूल, दिल्ली से हुई हैं। साथ ही एमबीबीएस की डिग्री वह हरियाणा के भगत फूल सिंह गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज से कर रही हैं।

वह एक प्रशिक्षित कुचिपुड़ी नृत्यक भी हैं। जिन्होंने महान नर्तकियों राजा और राधा रेड्डी और कौशल्या रेड्डी के तहत प्रशिक्षण लिया हैं। वह नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा का भी हिस्सा रही हैं।

25 जून 2017 को छिल्लर ने फेमिना मिस इंडिया 2017 प्रतियोगिता में हिस्सा लिया, जो हरियाणा राज्य का प्रतिनिधित्व करता है। प्रतियोगिता के दौरान, छिल्लर को मिस फोटोजेनिक का ताज पहनाया गया। मिस वर्ल्ड 2017 प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व करने का अधिकार प्राप्त करने के साथ-साथ प्रतियोगिता भी हासिल हुई।
मिस वर्ल्ड 2017 में छिल्लर शीर्ष मॉडल, पीपुल्स चॉइस, और मल्टीमीडिया प्रतियोगिताओं में सेमीफाइनल बने, जबकि वह एक पर्पल प्रतियोगिता के साथ सौंदर्य प्रतियोगिता के सह-विजेता थे।

उनका लक्ष्य मासिक धर्म की स्वच्छता के बारे में जागरूकता फैलाना है। उन्होंने परियोजना के लिए लगभग 20 गांवों का दौरा किया और 5,000 से अधिक महिलाएं का उपचार किया। 18 नवंबर 2017 को छिल्लर को मिस वर्ल्ड 2017 का पुरस्कार दिया गया। आउटगोइंग शीर्षक धारक स्टेफ़नी डेल वाले ने उनको ताज पहनाया। वह मुकुट जीतने वाली छठी भारतीय महिला बन गईं। भारत की तरफ से अंतिम बार प्रियंका चोपड़ा ने मिस वर्ल्ड 2000 जीता था।

आपको हमारी खबर कैसी लगी? अच्छी लगी तो अपने फेसबुक, व्हाट्सअप, इंस्टाग्राम, लिंकडइन सहित सोशल मीडिया पेज पर शेयर करें और अपने दोस्तों को बताएं। साथ ही हमें nationaldunianews@gmail.com पर सुझाव भी दें। Whatsapp Number.9828999333

Facebook Comments