राजस्थान: आखिर तीसरे मोर्चे का सपना कैसे होगा साकार? मीणा ने दिया बेनीवाल को झटका

33

जयपुर।

राजस्थान की सियासत में बीते 4 दिन से तूफान आया हुआ है। राष्ट्रीय जनतांत्रिक पार्टी, यानि राजपा के राजस्थान से विधायक किरोड़ी लाल मीणा, उनकी पत्नी विधायक गोलमा देवी और इसी पार्टी की तीसरी विधायक गीता वर्मा ने राजपा छोड़कर शनिवार को भाजपा ज्वाइन कर ली।

खबर को अपने Facebook और WhatsApp ग्रुप में शेयर कीजिए। Play Store से Nationaldunia का मोबाइल ऐप इंस्टॉल कीजिए और पाइए ताजा खबरें। अपने आसपास की फोटो, खबरें और वीडियो हमारे WhatsApp नंबर 99828 99333 पर भेज दीजिए।

किरोड़ी लाल मीणा राजस्थान से भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा उम्मीदवार बनाए गए हैं। उन्होंने सोमवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल कर दिया। उनके साथ ही पार्टी के महासचिव भूपेंद्र सिंह यादव और अनुशासन समिति के चेयरमैन मदन लाल सैनी ने भी अपना नामांकन पत्र भर दिया।

किरोड़ी लाल मीणा के भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने से राजस्थान में तीसरे मोर्चे को लेकर बीते 4 साल से हुंकार भर रहे निर्दलीय विधायक हनुमान बेनीवाल और खुद किरोड़ी लाल मीणा के दावे को गहरा आघात लगा है।

हालांकि, हनुमान बेनीवाल ने साफ कह दिया है कि वह किसी भी सूरत में भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने वाले नहीं हैं। बेनीवाल ने इसके साथ ही यह भी कहा कि किरोड़ी लाल मीणा ने उनके साथ किए गए वादे को तोड़ा है, जिसकी सजा उनको राज्य की जनता देगी।

आपको बता दें कि राजस्थान में राज्य सरकार पर लगातार हमले करते हुए हनुमान बेनीवाल, किरोडी लाल मीणा और BJP के ही विधायक घनश्याम तिवाड़ी ने लगातार सरकार को कटघरे में खड़ा रखा है। किरोड़ी लाल मीणा और हनुमान बेनीवाल ने राज्य में साल 2018 के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान तीसरे मोर्चे के उम्मीदवार मैदान में उतारने और सत्ता हासिल करने के दावे किए जाते रहे हैं।

ऐसे में जब किरोड़ी लाल मीणा अपने अन्य 2 विधायकों के साथ बीजेपी में शामिल हो चुके हैं, तो हनुमान बेनीवाल के तीसरे मोर्चे के सपने को गहरा झटका लगा है।

Facebook Comments
SHARE